किसानों के समर्थन में एबीपी पत्रकार ने छोड़ी नौकरी, कहा- लात मारता हूँ ऐसी नौकरी पर जहाँ सच नहीं दिखाया जाता है

0
811

बीते साल से चल रहा किसान आंदोलन को मीडिया द्वारा कई बार बदनाम करने की कोशिश की गई है। कुछ चुनिंदा ही न्यूज़ चैनल ऐसे हैं। जो लोगों के बीच सच्चाई दिखा रहे हैं।

इसी बीच खबर सामने आई है कि एबीपी न्यूज चैनल के सीनियर रिपोर्टर रक्षित सिंह ने नौकरी छोड़ने का ऐलान कर दिया है।

ऑल्ट न्यूज़ के सह-संस्थापक मोहम्मद जुबैर ने अपने ट्विटर पर इससे जुड़ा एक वीडियो शेयर किया है। उन्होंने लिखा है कि मेरठ की किसान महापंचायत कवर करने पहुंची एबीपी न्यूज़ के सीनियर रिपोर्ट रक्षित सिंह ने महापंचायत के मंच पर चढ़ाई नोकरी छोड़ी। यूनानियों ने आरोप लगाया की न्यूज चैनल खबर सच्ची खबर नहीं दिखाती।

इस किसान महापंचायत के दौरान उन्होंने कहा कि मेरी मां-बाप ने अपने खून पसीने की कमाई से मुझे पढ़ा लिखा कर इस काबिल बनाया कि मैं इस पेशे को चुन पाया।

मैंने इस पेशे को इसलिए चुना क्योंकि मैंने सच दिखाना था। लेकिन हमें न्यूज़ल द्वारा सच नहीं दिखाया जा रहा है। आज मैं इस नौकरी को लात मारता हूं।

मैंने वर्षों तक इस व्यवसाय में नौकरी की है। आज तक मुझ पर कोई भी तरह का आरोप नहीं लगाया जा सका। इस दौरान उन्होंने बताया कि आज की तारीख में मुझे एक साल का 12 लाख रुपये का पैकेज दिया गया है।

मेरे पिता को गुजरे 10-12 साल हो चुके हैं। घर में बीवी बच्चे और बूढ़ी मां है जिसका पालन पोषण मेरी जिम्मेदारी है।

हर रोज मैं अपनी बीवी से यह सवाल पूछता हूं कि अगर मैंने यह नौकरी छोड़ दी। तो अपने बच्चे का पालन पोषण कैसे करेंगे। क्योंकि मुझे पता है कि नौकरी छोड़ने के बाद मुझे एफआईआर दर्ज करवाई जाएगी।

मुकदमे दर्ज किए जाएंगे। हो सकता है कि मैं सड़क पर जा रहा हूं और मुझे ट्रक पर चढ़ना पड़े।

उन्होंने कहा कि आज न्यूज चैनल द्वारा मुझे इस किसान महापंचायत को कवर करने के लिए भेजा गया था। जहाँ मैंने नौकरी छोड़ने का फैसला लिया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here