बिहार में बीजेपी एमएलए का बड़ा खुलासा: ट्रांसफर-पोस्टिंग के नाम पर भाजपा के मंत्रियों ने खाई घूंस

0
247

बिहार में भारतीय जनता पार्टी के विधायक ज्ञानेंद्र कुमार सिंह ‘ज्ञानू’ ने बड़ा खुलासा करते हुए कहा कि राज्य में ट्रांसफर-पोस्टिंग के नाम पर बीजेपी के ज़्यादातर मंत्री घूसख़ोरी में लिप्त है। उन्होने जनता दल यूनाइटेड कोटे के एक मंत्री की और भी इशारा किया।

उन्होने बताया कि राज्य में विभिन्न विभागों में बुधवार को करीब दो हजार से अधिक पदों पर तबादले किये गये। ऐसे में बीजेपी के मंत्रियों ने जमकर रिश्वत में पैसा कमाया। उन्होने कहा, अगर बीजेपी मंत्रियो के आवास पर छापेमारी की जाए तो वहां से करोड़ों रुपए बरामद होंगे।

सिंह ने कहा कि मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के डर से जद (यू) के मंत्री ऐसा नहीं कर सके, लेकिन हाल ही में पार्टी में शामिल हुआ एक मंत्री ट्रांसफर-पोस्टिंग के दौरान भ्र’ष्टाचार में शामिल था।

उन्होने कहा, “मुझे इस भ्रष्टाचार के बारे में उन अधिकारियों से पता चला है जिनका बुधवार को तबादला किया गया था। उन्होंने मुझे बताया है कि बड़े पैमाने पर पैसों का लेन-देन हुआ है और इसमें बीजेपी के कई मंत्री शामिल हैं। जनता दल यूनाइटेड कोटे के मंत्री नीतीश कुमार के डर से ऐसा नहीं कर सके। अगर जांच की गई तो इन मंत्रियों के आवासों से पैसा वसूल किया जाएगा।

बिहार में विभिन्न सरकारी विभागों के 15,000 से अधिक पदाधिकारियों का 30 जून को तबादला कर दिया गया। राजद नेता तेजस्वी यादव ने भाजपा विधायक द्वारा भ्रष्टाचार के आरोपों को लेकर नीतीश कुमार पर निशाना साधा और कहा कि मुख्यमंत्री खुद राज्य में “भ्रष्टाचार के पिता” है।

दूसरी और भाजपा नेता अजफर शम्सी ने कहा, “ज्ञानेंद्र कुमार सिंह एक वरिष्ठ विधायक हैं और व्यक्तिगत मुद्दे हो सकते हैं, लेकिन उन्हें इसे सही मंच पर उठाना चाहिए था, शायद सीएम नीतीश कुमार या राज्य भाजपा अध्यक्ष के सामने।”

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here