बीजेपी के आधे विधायक TMC जॉइन करने में जुटे: सौगत रॉय

0
231

तृणमूल कांग्रेस ने दावा किया कि पश्चिम बंगाल में भाजपा के आधे विधायक उसके नेतृत्व के संपर्क में हैं और उन सभी को शामिल किया जाएगा या नहीं, इस पर फैसला लिया जाना बाकी है। साथ ही पार्टी ने कलकत्ता उच्च न्यायालय के हालिया आदेश पर भी नाराजगी जताई है।

टीएमसी सांसद और प्रवक्ता सौगत रॉय ने कहा, “भाजपा के आधे से अधिक नवनिर्वाचित विधायक हमारी पार्टी के संपर्क में हैं, जो टीएमसी में शामिल होने की इच्छा व्यक्त कर रहे हैं। पार्टी ने अभी इस मुद्दे पर कोई स्टैंड नहीं लिया है। इस पर  अंतिम निर्णय मुख्यमंत्री को लेना है। ”

विधानसभा चुनावों में अपनी शानदार जीत के बाद से, टीएमसी प्रमुख ममता बनर्जी ने केवल मुकुल रॉय के लिए टीएमसी का दरवाजा खोला है। तृणमूल कांग्रेस से अलग हुए कई भाजपा विधायकों ने कहा कि वे भगवा खेमे की राजनीति से खुश नहीं हैं।

चुनाव से पहले भाजपा में शामिल हुए पूर्व मंत्री राजीव बनर्जी ने कहा कि वह पार्टी की विभाजनकारी राजनीति से खुश नहीं हैं। रॉय ने यह भी कहा कि पार्टी चुनाव के बाद की हिंसा पर कलकत्ता उच्च न्यायालय की टिप्पणी से खुश नहीं है। उन्होने मुख्य न्यायाधीश राजेश बिंदल को हटाने के लिए भारत के मुख्य न्यायाधीश को भी पत्र लिखा है।

पिछले महीने टीएमसी विधायक और बार काउंसिल ऑफ पश्चिम बंगाल के अध्यक्ष अशोक कुमार देब ने आरोप लगाया था कि बिंदल कुछ प्रमुख मामलों की सुनवाई में पक्षपाती हैं।  राष्ट्रीय मानवाधिकार आयोग को रिपोर्ट सौंपने के लिए हाई कोर्ट के आदेश की निंदा करते हुए रॉय ने कहा कि एनएचआरसी को शामिल करने की कोई आवश्यकता नहीं है।

उन्होने कहा, “जब सरकार नहीं होती है तो ऐसा आदेश उपयुक्त होता है। हमारे पास एक स्थिर सरकार है और राज्य का अपना मानवाधिकार आयोग है।”

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here