दिल्ली दंगो से पहले कपिल मिश्रा के साथ दिखने वाले पुलिस अधिकारी ने मांगा प्रेसिडेंट मेडल

0
310

दिल्ली पुलिस के पूर्व डीसीपी वेद प्रकाश सूर्य को दिल्ली दंगों से ठीक पहले बीजेपी नेता कपिल मिश्रा के साथ देखा गया था। जब वे कथित तौर पर शाहीन बाग आंदोलन कारियों के खिलाफ अभद्र भाषा का इस्तेमाल कर रहे थे और उसके कुछ देर बाद ही राजधानी में दंगे भड़क उठे थे।

अब दिल्ली पुलिस ने वेद प्रकाश सूर्या का नाम राष्ट्रपति मेडल के लिए भेजा है। वेद प्रकाश सूर्या ने यह कहते हुए पुरस्कार मांगा है कि उन्होंने दंगों के दौरान सैकड़ों लोगों के जीवन के साथ-साथ संपत्तियों को भी बचाकर “असाधारण” काम किया। सूर्या ने अपनी अर्जी में तीन-चार दिनों में हिं’सा पर काबू पाने का दावा किया है।

उन्होने दिल्ली पुलिस मुख्यालय को भेजी अपनी अर्जी में कहा, उन्होने दिल्ली दंगों के दौरान तीन-चार दिनों में हिंसा पर काबू पाने का दावा किया। इसके साथ ही वह मदद के लिए फोन कॉल के जवाब सहित “सैकड़ों लोगों के जीवन को बचाने के अपने साहसी प्रयासों” की भी बात करते हैं, और कहते हैं कि पथराव के बावजूद वह विचलित नहीं हुए।

उनके कुछ साथियों ने भी पुरस्कार के लिए अपना मामला मुख्यालय के सामने रखा है। सूत्रों ने कहा कि उनमें से ज्यादातर ने दंगों के दौरान अपनी भूमिका का हवाला दिया है।

टीआईई ने एक गुमनाम पुलिस अधिकारी के हवाले से कहा कि पदक का प्रस्ताव जिले से पुलिस मुख्यालय को भेजा जाता है, जहां इसे वरिष्ठ अधिकारियों की एक समिति के सामने रखा जाता है और अंत में दिल्ली पुलिस आयुक्त द्वारा अनुमोदित किया जाता है। इसके बाद फाइल को गृह विभाग और फिर केंद्रीय गृह मंत्रालय को भेजा जाता है।

23 फरवरी को पूर्वोत्तर दिल्ली में कपिल मिश्रा के अभद्र भाषा के भाषण के बाद व्यापक हिंसा भड़क उठी थी और मुसलमानों को विशेष रूप से निशाना बनाया गया था।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here