संयुक्त राष्ट्र प्रमुख बोले – कश्मीर में बच्चों के खिलाफ पेलेट गन का इस्तेमाल हो बंद

0
383

संयुक्त राष्ट्र महासचिव एंतोनियो गुतारेस ने भारत से कश्मीर में बच्चों के खिलाफ पैलेट गन का इस्तेमाल बंद करने की अपील की है। उनकी यह अपील “बच्चों और सशस्त्र संघर्ष” पर उनकी ताजा रिपोर्ट में सामने आई है। जिसे सोमवार को खुली बहस के लिए संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद में प्रस्तुत किया गया।

रिपोर्ट के अनुसार, संयुक्त राष्ट्र प्रमुख ने कहा, “मैं [भारत] सरकार से बच्चों की सुरक्षा के लिए निवारक उपाय करने का आह्वान करता हूं।” उन्होंने भारत सरकार से यह सुनिश्चित करने का आग्रह किया कि बच्चे किसी भी तरह से सुरक्षा बलों से जुड़े नहीं हैं। इस दौरान उन्होंने सुरक्षित स्कूल घोषणा और वैंकूवर सिद्धांतों का समर्थन भी किया।

गुतारेस ने आगे कहा, “मैं बच्चों को हिरासत में लेने और प्रताड़ित करने और स्कूलों के सैन्य इस्तेमाल से चिंतित हूं।” रिपोर्ट में कहा गया, भारतीय सुरक्षा बलों ने महीनों तक कम से कम सात स्कूलों का इस्तेमाल किया। इसमें कहा गया है कि सशस्त्र समूहों के साथ कथित जुड़ाव के लिए भारतीय प्रशासित कश्मीर में भारतीय बलों द्वारा चार बच्चों को हिरासत में लिया गया था।

1

संयुक्त राष्ट्र प्रमुख ने कहा कि उन्होंने निवारक और जवाबदेही उपायों को लागू करने के लिए संयुक्त राष्ट्र के विशेष प्रतिनिधि के साथ भारत सरकार के सकारात्मक जुड़ाव का स्वागत किया। उन्होंने कहा, “मैं (भारत) सरकार से यह सुनिश्चित करने का आग्रह करता हूं कि बच्चों को अंतिम उपाय के रूप में और कम से कम उचित समय के लिए हिरासत में लिया जाए और हिरासत में सभी प्रकार के दुर्व्यवहार को रोका जाए।”

गुतारेस ने कहा, “मैं (भारत) सरकार से किशोर न्याय (बच्चों की देखभाल और संरक्षण) अधिनियम, 2015 के कार्यान्वयन को सुनिश्चित करने का भी आग्रह करता हूं ताकि अवैध गतिविधियों के लिए बच्चों के उपयोग और हिरासत में लिए गए बच्चों की स्थिति को संबोधित किया जा सके।”

बता दें कि 2016 के बाद से 1,100 से अधिक लोग आंशिक रूप से या पूरी तरह से अंधे हो गए, जिनमे कई पीड़ित बच्चे हैं। इन बच्चों में 19 महीने की हीबा हैं, जो नवंबर 2018 में दक्षिणी कश्मीर के एक गांव में अपनी मां की गोद में बैठकर घायल हो गई थीं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here